Drug Abuse Hindi-Drug Abuse Topic In Hindi-Drug De-Addiction

0
163
Drug Abuse Hindi

Post Contents

Drug Abuse Hindi-Drug AbuseTopic In Hindi-Drug Abuse in Hindi essay|Drug De-Addiction

Drug Abuse Hindi essay

What is drug abuse?

दुरुपयोग यानि Misuse का meaning किसी पदार्थ का दुरुपयोग करना होता है.

Drug Abuse Definition in Hindi

Meaning Of Drug Abuse

Drug Abuse Hindi Meaning Drug Abuse का meaning है,

उन ड्रग्स  का उपयोग करना जो आपको Doctor द्वारा नहीं prescribe की गई हो

इसमें कोई doubt नहीं हैं कि Negative effects के बावजूद भी नशीली दवाओं का misuse हो रहा है. यह एक बढ़ती हुई problem है.

Drug Abuse Juveniles in India

Drug Abuse सभी Age के लोगों को Affect कर सकता है. लेकिन देखा जाए तो यह Juvenile age, Young age के लोगों में अधिक common है. आज के समय में  मादक पदार्थों का use एक बड़ा challenge बन चूका है। Youngsters का एक बड़ा वर्ग इसकी चपेट में आ गया है।

Drugs Which Cause Abuse

Cocaine (चरस, हशीश), Heroin, अफीम, गांजा (Marijuana), शराब, Whiskey, रम, beer, Brown sugar,हशीश, भांग जैसे नशीले पदार्थो का use करके लोग अपनी life खराब कर रहे है।

ये Drugs कुछ समय के लिए नशा देते है जिसमे व्यक्ति को happy feeling  होती है, पर जैसे ही नशा खत्म होता है व्यक्ति फिर से उसे लेना चाहता है। कुछ ही दिनों में उसे इन पदार्थो की addiction हो जाती है।

Drug Abuse In

School, Colleges में drugs  नशीली गोलियां चोरी छिपे बेचीं जा रही है जो युवाओं के future को खराब कर रही है। इन मादक पदार्थों का use करने के बाद जल्द ही इसकी Drug addiction हो जाती है। उसके बाद लोग चाहते हुए भी इसको quit नही कर पाते हैं।

Drug Abuse Hindi/Addiction Of Drug

बच्चे अपनी pocket money को खर्च करके इसे लेने लग जाते हैं। जल्द ही यह इसको use करने वाले person को पूरी तरह से बर्बाद कर देती है। आज देश के कई states में इन मादक पदार्थों/ drugs  को चोरी छिपे sale  किया जा रहा है।

Doing Drugs

Punjab जैसे states में नशीले पदार्थो के use ने एक विकराल रूप धारण कर लिया है। Delhi, Mumbai, Chennai जैसे Metro Cities  में Rave parties में लोग इसका अधिक सेवन करते हैं। आमतौर पर पैसे वाले लोग इसका ज्यादा शिकार होते है।

Abuse Drug

इन Drugs में Pain relieving effects, Prohibited, anxiety-relieving drugs और  stimulants शामिल हैं. इन drugs  का ज्यादा समय के लिए use उसकी लत/Addiction लगा सकता है. इसे कई रूपों में देखा जा सकता है

Drug Abuse HindiAddiction Of Drug

जैसे:

  • – निर्धारित से कुछ ज्यादा मात्रा में drug लेना.
  • – किसी भी नशीले substance को लेने से स्वयं अपने आप को नुकसान पहुंचता है.
  • – उच्च आनंद या happy feeling के लिए drug को injection के through लेना.
  • – किसी और की drug का use करना.
  • Drug Abuse के कारण एक person को काम से related problems का सामना करना पड़ सकता है.

क्या आप जानते हैं कि time के साथ नशीली दवाओं का abuse और addiction होते हैं, लेकिन नशीली दवाओं के use  के दौरान एक अवधि में user के जीवन पर negative effect पड़ता है

Drugs Which Cause Abuse

प्रमुख नशीले पदार्थ (COMMON DRUGS AND NARCOTICS)

कुछ प्रमुख नशीले पदार्थ

  • Cocaine (चरस), Heroin, अफीम, गांजा (मारिजुआना), शराब, Whisky, Rum, Beer, Brown Sugar, भांग
  • Doctor द्वारा लिखी गयी- नींद की गोलियां,
  • Stress, anxiety, depression कम करने  वाली गोलियां
  • Cough syrup जैसे Corex का सेवन
  • तम्बाकू वाले substance जैसे- बीड़ी, cigarette, गुटखा, खैनी, जर्दा, पान मसाला
  • Volatile solvent जैसे- नेल पॉलिश रिमूवर (Nail Polish Remover), Petrol,   पेंट (Paint)

Drug Abuse Hindi/Drug Tolerance And Dependence

Features Of Drug Abuse/Drug Abuse की विशेषताएं

  • Drug Abuse के कारण अपने काम या school में negative effect देखे जाते हैं।
  • – यह relations को effect करता है.
  • Drug abuse के कारण legal या financial problem हो सकती है.
  • – इसके अलावा, अक्सर Drug abuse, लेकिन हमेशा नहीं, नशीली दवाओं की addiction का कारण भी बन सकता है.

Cause Of Drug Addiction/Drugs लेने के कारण

इसके पीछे निम्न कारण हो सकते हैं,

  • आनन्द पाने के लिए youngsters और Middle aged दोनों वर्गों के लोग इसका use करते हैं। इसके use से कुछ समय के लिए शरीर में energy रहती है, willpower, confidence बढ़ जाता है। लोगो को इसका use उपयोगी लगने लगता है।
  • आजकल की महंगी lifestyle में parents, माता और पिता दोनों ही पैसा कमाने के लिए jobs करने लगे है। वो बच्चो का ख्याल अच्छे से नहीं रख पाते है। ज्यादातर parents सुबह घर से निकलते है और रात में घर वापिस आते है।
  • वो बच्चो को pocket money के लिए अधिक से अधिक पैसा देते है जिससे वो drugs जैसे नशीले पदार्थों का use करने लग जाते है।
  • कई बार बच्चे अपने loneliness को दूर करने के लिए नशीले पदार्थों का use करने लग जाते हैं। उन्हें सही तरह का Guidance नही मिलने के कारण वो भटक जाते हैं।

READ MORE, Nutrition-What Is Nutrition? 6 Types Of Nutrition|Sources Of Nutrients Hindi

Main Cause Of Drug Addiction-Peer pressure

अपने friends के प्रभाव में आकर बच्चे सबसे पहले drugs लेना शुरू करते हैं। वो इसे शौक-शौक में लेते है पर जल्द ही इसकी addiction हो जाती है।

  • कई बच्चे इसको fashion समझने लगे हैं। अमीर बच्चो में ये problem कुछ ज्यादा ही है। ये drugs बहुत महंगे होते है, पर अमीर घर के बच्चे इसे easily खरीद लेते है।
  • कुछ लोग अपने दुःख दर्दों, life की problems से भागने के लिए Drugs का use करने लग जाते है।
  • कुछ लोग बोरियत, नींद न आना, गुस्से से बचने के लिए इसका use करते है।Drug Abuse Hindi

ड्रग दुरूपयोग (Drug Abuse) के लक्षण/Symptoms of Drug Abuse/Symptoms Of Drug Addiction

निम्नलिखित लक्षणों से Drug Abuse का संकेत मिलता है:

  • Suicide के cases में वृद्धि का होना
  • Criminal offenses को बढ़ाने के जोखिम का बढ़ना
  • Mental problems का होना
  • लंबे समय तक मानसिक इलाज
  • Depression और चिंता
  • मानसिक रोग

Drug abuse कोई शारीरिक symptoms नहीं दिखाता है लेकिन patient में मौजूद होता है.

DRUG ABUSE HINDI

Drug Abuse Is

EFFECTS OF DRUG ABUSE-Drug Abuse के सेवन का प्रभाव

Drug abuse के निम्न side effects होते हैं,

नशीले पदार्थो की addiction होने के बाद कुछ भी अच्छा नही लगता है। बार-बार Drugs लेने की तलब लगती है। व्यक्ति अपने future के बारे में कुछ नही सोच पाता है।

जब वो drugs नही लेता है तो उसे बड़ी बेचैनी होती है। body में pain होता है। Irritation, भूख न लगना, गुस्सा, हाथ पैरो में दर्द और भारीपन, शरीर कांपना, uncontrolled blood pressure, उलटी मितली आना, जैसे symptoms दिखने लग जाते हैं।

इन नशीले पदार्थों का brain, liver, heart, kidneys पर बुरा प्रभाव होता है। heart attack का danger बढ़ जाता है।

व्यक्ति अपनी Social responsibilities से भागने लगता है। वो अपने Interesting कार्यों से भी भागने लगता है।

नशे के effect में व्यक्ति दूसरे लोगो के साथ दुर्व्यवहार करता है। महिलाओं से छेड़खानी, rape, हिंसा, suicide, accident, हत्या, Unprotected sex, बाल शोषण, Domestic violence जैसे crimes नशीले पदार्थो के use के बाद हो जाते है।

Drugs के सेवन के लिए व्यक्ति अपने सारे पैसे खर्च कर देता है। दूसरे लोगो के पैसे चोरी करने लग जाता है। कई बार वो अपनी जमीन, मकान, car, घर का सामान, Jewelry और दूसरीसम्पत्ति भी नशा करने के लिए बेच देता है। व्यक्ति की फाइनेंसियल condition बद से बदतर होती चली जाती है।

Drug Abuse Hindi

Types of Addiction-नशे की लत के प्रकार

Drug abuse तीन Groups में बाटा जा सकता है:

1.अवसाद की stage (Depressants):

Drugs का use, brain में, नींद की गोलियां और हेरोइन जैसी drugs लेने के कारण अवसाद का कारण बन सकता है.

2. उत्तेजना (Stimulants):

Drug abuse से brain में उत्तेजना हो सकती है, जिससे alertness बढ़ जाती है और Increased activity होती है.

कुछ health problems जैसे तेज heart rate, आखों की pupil का फैलना, high blood pressure, जी मिचलाना या उल्टी का होना, behavior में change इत्यादि होते हैं.

Cocaine और amphetamines का use करके Confused mind की stage भी उत्पन्न हो सकती है.

3. हेलुसीनोजेन (Hallucinogens):

Drug abuse से hallucination या स्वयं से दूर होने की feeling भी उत्पन्न हो सकती है. यह विकृत Sensory perception, depression आदि का कारण बन सकता है.

Drug Abuse Hindi/Abuse Drug का निदान-Diagnosis Of drug Addiction

नशे की लत का निदान कैसे करते हैं।

  • नशे की लत का निदान करने के लिए एक overall checkup की जरूरत होती है।
  • Imaging Scan, छाती का X ray और blood test पूरे शरीर पर होने वाले long term harmful effects को दिखाता है।
  • Blood test, urine test या अन्य लैब टेस्ट्स का use, ड्रग abuse को सुनिश्चित करने के लिए किया जाता है। इन tests का इस्तेमाल ट्रीटमेंट और rehabilitation की स्टेज की निगरानी के लिए किया जाता है।

Drug Prevention-Drug abuse से कैसे बचें/How I get rid of Drug ADDICTION?

DRUG ABUSE HINDI

नशीले पदार्थो के सेवन से बचने के लिए के लिए निम्न उपाय अपनायें –

अपने मन में नशे की लत को छोड़ने की ठान लीजिये। मन में strong willpower होना जरूरी है।

Psychological Pathy से रोगी का treatment किया जाता है।

Drug Abuse Hindi

Drug Rehabilitation

पुनर्वास केंद्र/ नशा मुक्तिकेंद्र (Rehabilitation Center) में admit होना अच्छा option है। वहां पर और भी लोग आते है। सबका इलाज एक साथ Doctors की देख रेख में किया जाता है। समूह चिकित्सा (Group Therapy) में patient का treatment किया जाता है।

ध्यान और योग से भी drugs की लत को छोड़ा जा सकता है।

हर समय अपने friends, relatives, well-wishers के साथ रहे। जब आप उनके सामने हर समय रहेंगे तो आपको नशा करने का chance ही नही मिलेगा।

नशे से ग्रस्त patients को रोज Diary लिखनी चाहिये। ऐसा करने से बहुत benefit होता है। जीवन की हर एक बात लिखनी चाहिये। नशा करने के बाद के bad effects को लिखने से व्यक्ति को आभास होता है की किस तरह उसकी life नशे से खराब हो रही है।

ड्रग दुरुपयोग/Drug Abuse और ड्रग व्यसन/Drug Addiction के बीच क्या difference होता है?

DRUG ABUSE HINDI

drug abuse and addiction

Daily या हर दूसरे दिन हम ड्रग दुरुपयोग (Drug abuse) और ड्रग व्यसन (Drug addiction ) शब्दों के बारे में पढ़ते या सुनते रहते हैं और कई बार लोग इन terms का use एक-दूसरे के स्थान पर भी कर लेते हैं.

लेकिन ड्रग दुरुपयोग/Abuse और व्यसन/Addiction, words दवाओं का दुरुपयोग या ड्रग दुरुपयोग और नशे की लत या व्यसन एक प्रकार की अलग-अलग situations हैं. हम इस fact से इंकार नहीं कर सकते हैं कि दोनों concepts एक समान Continuation पर एक साथ मौजूद हैं,

लेकिन नशीली दवाओं के abuse और Addiction के बीच क्या अंतर होता है?

नशीली दवाओं की लत लगना या व्यसन (Drug addiction) क्या होता है?

आखिरकार, नशीली दवाओं के दुरुपयोग/ Drug Abuse से नशे की लत लग सकती है. असल में, व्यसन/addiction तब होता है जब उपयोगकर्ता दवा के use से Negative effects का experience करता है और इसे छोड़ने से इंकार कर देता है.

drug tolerance and dependence

नशे की लत दवा के प्रति tolerance produce करती है और Disorganized होने पर symptoms के वापिस होने का feel कराती है. Time के साथ Drug Addiction या नशे की लत लगना, dependence develop होता है. इसके Physical और psychological factors हो सकते हैं.

ऐसा कह सकते हैं कि नशे की लत का होना एक बीमारी/disease है, जो किसी व्यक्ति के brain और behavior को प्रभावित कर सकती है. इसमें दवाओं के use से मिलने वाले फायदे कम हो जाते हैं.

Drug Abuse Hindi

कुछ पदार्थ जैसे alcohol, मारिजुआना (marijuana; गांजा) और nicotine को भी drug ही एक type माना जाता है, जब आप इनके आदी/used to हो जाते हैं, तो आप इनके कारण होने वाले negative effects को जानने के बावजूद भी इन drugs का उपयोग जारी रखते हैं.

नशे की लत, या drug addiction खुद की satisfaction या happy feeling लेने के लिए नशीली दवाओं का use से शुरू हो सकती है. जिसके बाद लोग इन नशीली दवाओं या drugs का use बार-बार करने लगते हैं.

आप कितनी तेजी से इन Drugs के addict होते हैं, इनके side effects, drugs की types पर depend करते हैं.

जैसे-जैसे time बीतता जाता है, रोगी को इस drug की अधिक dose की need होती है. इससे वह happy महसूस करने लगता है और फिर और drug की needहोने लगती है. जैसे ही रोगी drug का use बढ़ाता है, उसको लगता है कि drug के बिना उसका रहना difficult हो जाएगा.

नशीली दवाओं के प्रयोग को रोकने के efforts में वह खुद को physical रूप से Disabled and sick feel करने लगता है.

symptoms of drug addiction

नशीली दवाओं की लत या ड्रग व्यसन (Drug addiction)के लक्षण/symptoms

DRUG ABUSE HINDI
  • – पूरे दिन में एक या कई बार, regularly Drug का use करने की इच्छा का होना.
  • – जब कोई व्यक्ति Drugs का use नहीं करता है तो उसे symptoms के वापसी का भी feeling होता है.
  • – किसी particular time में अधिक effect पाने के लिए अधिक drugs का सेवन करना.
  • – Drug का use न करने के लिए कदम उठाना लेकिन रोकने में unable feel करना.
  • – बड़ी और यहां तक कि dangerous dose में Drugs का use किया जाता है.
  • – Sufficient पैसे न होने पर भी इन Drugs को लेना.
  • – पुरानी activities, काम, friends और अन्य activities में interest का धीरे-धीरे कम होना.
  • – Drug का regular use शारीरिक समस्याओं, legal problems या अन्य problems का reason बन सकता है, फिर भी एक व्यक्ति इन Drugs का addict हो जाता है.
  • Drugs लेने या अन्य activities छिपाने के दौरान झूठ बोलना.
  • – इसको छोड़ने के efforts में fail रहना.

Drug Abuse Hindi

जब किसी को नशे की लत/addiction लग जाती है तो उसमें mainly निम्न तरह के symptoms को देखा जाता हैं:

  • स्कूल या job place में problems का होना,
  • Health से जुड़ी problems होना,
  • उपेक्षित उपस्थिति/Neglected presence,
  • Behavior में change इत्यादि.

cause of drug addiction

नशे की लत/ ड्रग व्यसन/Drug addiction के कारण

Psychological reasons-नशे की लत

नशे की लत के कुछ Psychological reasons, trauma की वजह से हो सकती हैं.

घर में,

  • Sexual or physical abuse,
  • Ignored feeling व
  • situations का ठीक न होना,

ये सभी Conditions Psychological Stress पैदा करती है, जिनसे बचने के लिए लोग खुद से ही कुछ Drugs लेने लगते हैं और ये ही नशे की लत काmain reason बनता है.

  • Mental रूप से healthy न होना,
  • Job place व School में खराब प्रदर्शन,
  • आसपास के Atmosphere,
  • के कारण नशे की लत

इत्यादि भी कारण हो सकते हैं.

  • -किसी खेल में Participation, जहां Performance-enhancing drugs का use किया जाता है.
  • Group of friends, जो इस तरह की Drugs का use करता हो या publicity करता हो.
  • Socio-economic स्थिति का low होना.
  • Sometimes, नशे की लत के Hereditary कारण भी हो सकते हैं.

तो, अब आप Drug Abuse और Drug Addiction के बीच difference को समझ गए होंगे कि Drug Abuse बताई गई मात्रा से ज्यादा Drug को लेना होता है और Drug Addiction या नशे की लत का लगना time के साथ develop होता जाता है.

जब कोई Drug user दवा छोड़ने से इंकार कर देता है और negative results काexperience करता है तो उसको नशे की लत लग रही  होती है.

इसलिए, Drug Abuse एक Serious public health problem है जो लगभग हर Community and family को किसी भी तरह से affect करती है.

Friends, this was all about, Drug Abuse Hindi-Drug Abuse Topic In Hindi, Drug De-Addiction

I hope you will like this information. Feel free to ask any query by mail at

[email protected]

Visit and Subscribe to my Youtube Channel for Health Videos at

https://bit.ly/MyChannelAyurvedGuide

Like and share the article with your loved ones, by clicking on the Social Icons given below.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here