How To Detox Your Body – पूरे शरीर की अंदर से सफाई कैसे करें

Post Contents

- Advertisement -

Sharing is caring!

How To Detox Your Body – पूरे शरीर की अंदर से सफाई कैसे करें

- Advertisement -

Post Contents

बहुत सारे कारणों की वजह से आपके शरीर में टॉक्सिन्स यानी जहरीले पदार्थों की मात्रा बढ़ सकती है जैसे पॉल्यूशन, सिंथेटिक केमिकल्स, हैवी मेटल्स, कॉस्मेटिक्स। 

घर में साफ़ सफाई करने वाले कैमिकल्स, जंक फूड और रेडिमेड पैकेट में बंद खाने पीने की चीजें। रेडिमेड पैकेट में बंद खाने पीने की चीजों में शेल्फ लाइफ को बढाने के लिए बहुत सारे केमिकल्स मिलाए जाते हैं। यह सभी कारण मिलकर आपके शरीर में जहरीले पदार्थों की मात्रा को बढ़ाते हैं और आपको बीमार बनाते हैं।

लेकिन आपका शरीर भगवान ने कुछ इस तरीके से बनाया है कि वह इन सभी जहरीले पदार्थों को संभाल सकता है और इनसे मुक्ति प्राप्त कर सकता है। आपके शरीर की एक बहुत ही ज्यादा कुशल डिटॉक्सिफिकेशन प्रणाली है। 

- Advertisement -

Read more, Shilajit Health Benefits – शिलाजीत के आयुर्वेदिक गुण – फायदे व नुकसान – कैसे खायें

आपका शरीर कुदरती रूप से कुछ ऐसा बना हुआ है कि वह अपने अंदर के सभी जहरीले पदार्थों को बाहर निकाल देता है। ऐसा वह अपने कुछ खास अंगों की मदद से करता है। 

यह अंग हैं लीवर, किडनी, डाइजेस्टिव सिस्टम, स्किन और फेफड़े। यह सभी अंग मिलकर शरीर में से ज़हरीले पदार्थों को बाहर निकालते हैं और आपको रोग मुक्त बनाते हैं। 

लेकिन यह अंग ऐसा तभी कर पाते हैं जब यह पूरी तरह से सेहतमंद होते हैं, तंदरुस्त होते हैं और अपना काम पूरी दक्षता के साथ कर रहे होते हैं। 

अगर इन अंगों में थोड़ी सी भी खराबी आती है और इनकी काम करने की क्षमता में थोड़ी सी भी कमी आती है तो यह अंग शरीर में जमा गंदगी को पूरी मात्रा में शरीर से बाहर नहीं निकाल पाते हैं, जिसकी वजह से गंदगी शरीर में ही जमा होने लगती है और आपको हज़ारों किस्म की बीमारियां लगनी शुरू हो जाती हैं। 

- Advertisement -

इन अंगों का खास ध्यान रखकर आप अपनी बॉडी के नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम का ध्यान रख सकते हैं और यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि सारे ज़हरीले पदार्थ आपके शरीर में से बाहर निकलते रहें ताकि आपके शरीर में फालतू गंदगी जमा ना हो सके और आप गंभीर बीमारियों से बचे रहें। 

लेकिन ऐसा करने के लिए आपको बहुत सारे काम करने होंगे, तो एक एक करके जानते हैं। 

1. शराब की मात्रा को सीमित करना या पूरी तरह से पीना बंद करना – How to detox your body from alcohol

90 परसेंट शराब का पाचन आपके लीवर में होता है। जब शराब का पाचन होता है तो शराब में मौजूद अल्कोहल को लीवर में पैदा होने वाले पाचक एंजाइम्स एक नये पदार्थ में बदल देते हैं जिसका नाम है Acetaldehyde.

Acetaldehyde एक कैंसर पैदा करने वाला केमिकल है। तो अब आप समझ लीजिये कि शराब का सीधा संबंध कैंसर से है। लेकिन लीवर Acetaldehyde की पहचान एक कैंसर पैदा करने वाले टॉक्सिन यानि जहरीले पदार्थ के तौर पर कर लेता है और इसे एक हानिरहित पदार्थ में बदल देता है जिसका नाम है एसिटेट। 

एसिटेट एक नुकसान ना करने वाला पदार्थ है जिसका कोई नुकसान नहीं होता है तो लीवर ने कैंसर पैदा करने वाले ऐसे Acetaldehyde को बदलकर एसिटेट बना दिया जो कि एक हानिरहित पदार्थ है। 

तो इस प्रकार आपके लीवर ने आपके शरीर में पैदा हुए एक कैंसर पैदा करने वाले केमिकल को बदलकर एक हानिरहित पदार्थ में बदल दिया और आपको कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से बचा लिया। 

बाद में यह एसिटेट शरीर से बाहर निकल जाता है। इस प्रकार लीवर आपको शराब से पैदा होने वाले कैंसर से बचाता है। लेकिन अगर शराब के कारण लीवर को कोई नुकसान होता है तो फिर लीवर की यह शक्ति कम हो सकती है और वह इन कैंसर पैदा करने वाले केमिकल्स को शरीर से बाहर नहीं निकाल पाएगा। 

जिससे आपको कैंसर जैसी गंभीर बीमारी लग सकती है। शराब के इलावा और भी बहुत सारे ऐसे केमिकल्स शरीर में पैदा होते हैं जो कैंसरकारी होते हैं और लीवर उन्हें शरीर से बाहर निकालता है। 

लेकिन लीवर की कार्यप्रणाली कम होने से यह पदार्थ शरीर से बाहर नहीं निकल पाते हैं और शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं और शरीर में कैंसर पैदा करते हैं। 

इसलिए अपने लीवर का ध्यान रखिये और शराब का सेवन मत कीजिये ताकि आपका लीवर शराब की वजह से खराब ना हो। क्योंकि अगर आपका लीवर खराब होता है तो आपके शरीर की ज़हरीले पदार्थों को बाहर निकालने की क्षमता कम हो जाती है और शरीर अपने आप को पूरी तरह से डिटॉक्सीफाई नहीं कर पाता है। 

अगर आप शराब नहीं छोड़ सकते हैं तो कम से कम इसे पीना कम कर दीजिए। इसकी मात्रा को घटा दीजिये। इस प्रकार अपने शरीर की अंदर से सफाई करने के लिए अपने लीवर का ध्यान रखिये। (How To Detox Your Body)

2.आपको पूरी नींद लेनी है – How To Detox Your Body

शरीर के नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम को सपोर्ट करने के लिए यह जरूरी है कि आप पूरी मात्रा में नींद लें। जब आप सोते हैं तो आपका दिमाग रीस्टार्ट होता है और ज़हरीले पदार्थों को शरीर से बाहर निकालता है। दिमाग ही आपके शरीर के सभी अंगों को कंट्रोल करता है। 

अगर आपका दिमाग पूरी तरह से रिचार्ज नहीं हो पाएगा तो वह सही ढंग से आपके शरीर के अंगों को कंट्रोल नहीं कर पाएगा। जो अंग आपके शरीर की सफाई करते हैं उन अंगों को भी आपका दिमाग ही कंट्रोल करता है और अगर आपका दिमाग पूरा रिचार्ज नहीं होगा तो वह आपके इन अंगों को सही ढंग से कंट्रोल नहीं कर पाएगा।

जिसके कारण आपके शरीर का नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम भी सही ढंग से काम नहीं कर पाएगा। जिसके कारण जहरीले पदार्थ आपके शरीर से बाहर नहीं निकल पाएंगे और शरीर के अंदर ही जमा होने लगेंगे, जिसके कारण आपको बहुत सारी बीमारियां लग जाएंगी। 

नींद की कमी से स्ट्रेस, एंग्जाइटी, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट डिजीज, टाइप टू डायबिटीज और ओबेसिटी यानी मोटापा जैसी गंभीर बीमारियां लगती हैं। यह सभी बीमारियां इसी कारण लगती हैं क्योंकि आपका शरीर नींद की कमी की वजह से टॉक्सिन्स को शरीर से बाहर नहीं निकाल पाता (How To Detox Your Body) 

इसलिए शरीर की अंदर से पूरी सफाई करने के लिए पर्याप्त नींद लीजिए। आपकी नींद लंबी और गहरी होनी चाहिए। आपको एक दिन में 7 से 9 घंटे सोना चाहिए। 

Read more, क्या होती है चर्बी की गांठ, जानें इसके कारण और घरेलू इलाज – Lipoma Ayurvedic Treatment

3. आपको पर्याप्त मात्रा में पानी पीना है – How to detox your body naturally at home

पानी आपकी प्यास को बुझाने के साथ साथ आपके शरीर में और भी बहुत सारे महत्वपूर्ण काम करता है। यह आपके शरीर में तापमान को नियंत्रित करता है, आपके जोड़ों को चिकना बनाता है, आपके जोड़ों को लुब्रीकेंट करता है, पाचन में सहायता करता है, भोजन में से पोषक तत्वों को हजम करने में सहायता करता है और सबसे महत्वपूर्ण काम आपके शरीर को डीटॉक्स करता है। 

आपके शरीर में से फालतू पदार्थों को बाहर निकालता है और शरीर की सफाई करता है। आपके शरीर का जो नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम है उसे काम करने के लिए पानी की जरूरत होती है। बिना पानी के आपके शरीर का नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम काम नहीं कर सकता। 

जब आपके शरीर के अंदर हर रोज होने वाली दैनिक क्रियाएं होती हैं तो बहुत सारा वेस्ट प्रोडक्ट निकलता है। बहुत सारा कचरा निकलता है जैसे यूरिया, कार्बन ऑक्साइड। यह वेस्ट प्रोडक्ट अगर आपके शरीर में इकट्ठा हो जाएं तो आपको काफी नुकसान हो सकता है। 

पानी इस कचरे को पेशाब के माध्यम से, सांस लेने के माध्यम से और पसीने के माध्यम से आपके शरीर में से बाहर निकाल देता है। अगर आप पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पिएंगे तो पानी की कमी की वजह से यह वेस्ट प्रोडक्ट आपके शरीर में से पूरी मात्रा में बाहर नहीं निकल पाएंगे और शरीर के अंदर ही जमा होने लगेंगे जिसके कारण आपको बीमारियां लगेंगी। 

इसलिए अगर आप अपने शरीर की सफाई करना चाहते हैं तो पर्याप्त मात्रा में पानी पीजिए। पानी के बिना आपका नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम काम नहीं करेगा और गंदगी आपके शरीर में जमा होती रहेगी। आपको एक दिन में साढ़े तीन लीटर पानी जरूर पीना चाहिए। 

पानी की यह जरूरत आपके खान पान के हिसाब से आप जहां रहते हैं उस वातावरण के हिसाब से और आप जो काम करते हैं उसके हिसाब से कम या ज्यादा हो सकती है।

4. आपको चीनी और डिब्बाबंद और पैकेटबंद खाने की चीजों को कम से कम मात्रा में खाना है – How to detox your body from sugar

शरीर की सफाई करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप अपने शरीर में गंदी चीजों को डालना ही बंद कर दीजिए ताकि सफाई की जरूरत ही ना पड़े। आज की बीमारियों का सबसे बड़ा कारण चीनी, डिब्बाबंद खाने की चीजें और पैकेट बंद खाने की चीजें हैं। 

ऐसी चीजों को खाने से मोटापा, हार्ट डिजीज, कैंसर और डाइबिटीज जैसी गंभीर बीमारियां शरीर को लग जाती हैं। क्योंकि रेडिमेड खाने की चीजों में स्वाद को बढ़ाने के लिए, खुशबू को बढ़ाने के लिए, देखने में सुंदर बनाने के लिए और खराब होने से बचाने के लिए बहुत सारे नुकसानदायक केमिकल्स मिलाए जाते हैं। 

आपका शरीर इन केमिकल्स को शरीर से बाहर निकालने की कोशिश करता है लेकिन आपके शरीर की भी एक सीमा है। 

अगर आप बहुत ज्यादा मात्रा में इन चीजों को शरीर में डालना शुरू कर देंगे तो आपका शरीर इन्हें पूरी तरह से शरीर से बाहर नहीं निकाल पाएगा और इन चीजों में मौजूद नुकसानदायक केमिकल्स आपके शरीर में जमा होने लगेंगे और आपके शरीर में बीमारियां पैदा करने लगेंगे। 

इसलिए इन चीजों को कम से कम मात्रा में खाएं। कोई भी पैकेट बंद रेडीमेड खाने की चीज ना खाएं। कुदरती चीजें खाएं या घर पर बना कर खाएं। बाजार से कोई भी चीज खरीदकर खाने की बजाए उसी चीज को घर पर बना कर खाएं। 

उदाहरण के लिए बाजार से आलू के चिप्स खरीदकर खाने की बजाए घर पर आलू के चिप्स बनाकर खाएं। घर पर बनी चीजों का उतना ज्यादा नुकसान नहीं होता है क्योंकि घर पर बनी चीजों में नुकसानदायी केमिकल्स नहीं मिले होते हैं। 

अगर आप कभी कबार कम मात्रा में बाहर की कोई चीज खा भी लेंगे तो आपका शरीर उसे बाहर निकाल देगा। समस्या तब आती है जब आप ज्यादा मात्रा में खाते हैं। इसीलिए बाहर के रेडीमेड खाने को कम से कम मात्रा में खाएं। 

ज्यादा चीनी वाली चीजें खाने से और रेडिमेड चीजें खाने से आपके शरीर के उन अंगों को नुकसान पहुंचता है जो अंग आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई करते हैं।

उदाहरण के लिए ज्यादा चीनी वाली चीजें खाने से या चीनी वाले रेडिमेड पेय पदार्थ पीने से आपको फैटी लिवर की बीमारी हो जाती है और आपके लिवर की कार्यप्रणाली कम हो जाती है जिससे वह शरीर को पूरी तरह से डिटॉक्सीफाई नहीं कर पाता। 

इसी प्रकार और भी बहुत सारी बीमारियां हैं जो बाहर का खाना खाने से होती हैं और यह बीमारियां आपके शरीर के नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम को प्रभावित करती हैं जिससे आपके शरीर में और ज्यादा नुकसानदायक कैमिकल्स जमा होने लगते हैं और आपको और ज्यादा बीमारियां लगनी शुरू हो जाती हैं।

इसीलिए अपने शरीर की सफाई करने के लिए बाहर का खाना खाना छोड़ दीजिए। 

Read more, अच्छे स्वास्थ्य के लिए भोजन करते समय कभी ना करें ये 7 गलतियां – Adopting Mindful Eating Habits

5. आपको ऐसी चीजें ज्यादा खानी हैं जिनमें एंटी ऑक्सिडेंट्स ज्यादा मात्रा में होते हैं – Simple way to detox body

एंटी ऑक्सीडेंट्स ऐसे पदार्थ होते हैं जो आपके शरीर की सफाई करने में सहायता करते हैं और आपको बहुत सारी बीमारियों से बचाते हैं। 

आपके शरीर में कुछ ऐसे पदार्थ होते हैं जो आपके शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं, इनका नाम है फ्री रेडिकल्स। 

फ्री रेडिकल्स आपको वातावरण से मिलते हैं, पॉल्यूशन से मिलते हैं, शराब पीने से मिलते हैं, सिगरेट बीड़ी पीने से मिलते हैं और जंक फूड खाने से मिलते हैं और यह आपके शरीर के अंदर भी पैदा होते हैं। 

जो एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं वह फ्री रेडिकल्स से लड़ते हैं और इनसे शरीर की रक्षा करते हैं। फ्री रेडिकल्स की वजह से आपको बहुत सारी गंभीर बीमारियां लग सकती हैं जैसे डिमेंशिया, हार्ट डिजीज, लिवर डिजीज, अस्थमा और कुछ प्रकार के कैंसर। 

शरीर की सफाई करने के लिए और फ्री रेडिकल से बचने के लिए आपको एंटी ऑक्सीडेंट्स से भरपूर डाइट खानी चाहिए। एंटी ऑक्सीडेंट्स आपको फल और सब्जियों से मिलते हैं। कुछ एंटी ऑक्सीडेंट्स के नाम एक एक करके जानते हैं। 

विटामिन ए, विटामिन सी, सेलेनियम, लाइकोपीन, ल्यूटिन और ज़िंक ये सभी एंटी ऑक्सीडेंट्स हैं। ताजा फ्रूट और सब्जियों में सबसे ज्यादा मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं। 

इसलिए अपने शरीर की सफाई करने के लिए और अपने शरीर को फ्री रेडिकल से बचाने के लिए ज्यादा से ज्यादा मात्रा में अलग अलग प्रकार के फल और सब्जियों को और कच्चे सलाद को जैसे खीरा, टमाटर वगैरा को अपने भोजन में शामिल कीजिए ताकि आपको ज्यादा से ज्यादा मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट्स मिल सकें जो आपको फ्री रेडिकल्स से बचा पाएं। 

6. आपको ऐसा भोजन खाना है जिसमें प्री बायोटिक्स की मात्रा ज्यादा हो – How to best detox your body

प्री बायोटिक्स क्या होते हैं और ऐसा क्यों करना है, जानते हैं। 

आपके शरीर का नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम सही से काम करता रहे इसके लिए यह जरुरी है कि आपकीआंतों की सेहत बिल्कुल ठीक रहे क्योंकि आँतों में एक ऐसा डिटॉक्सिफिकेशन और जहरीले पदार्थों को बाहर निकालने का सिस्टम होता है जो आपके पूरे शरीर की सफाई करता है और आपको हानिकारक पदार्थों से बचाता है। 

इसलिए आंतों की सेहत बहुत जरुरी है और आंतों की सेहत बनाए रखने के लिए प्री बायोटिक्स बहुत जरूरी होते हैं। प्री बायोटिक्स एक तरह का फाइबर होता है जो आपकी आंतों में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया के लिए जरूरी होता है। प्री बायोटिक्स ज्यादा खाने से आपकी आंतों में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया ज्यादा मात्रा में बढ़ने लगते हैं,

जो आपकी सेहत के लिए अच्छा होता है। कई बार एंटीबायोटिक दवाइयां खाने से या दांतों की सही से, सफाई ना होने से या खराब डाइट खाने से आंतों में मौजूद बुरे बैक्टीरिया की मात्रा बढ़ जाती है और अच्छे बैक्टीरिया की मात्रा कम हो जाती है जो आपकी आंतों की सेहत के लिए और आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं होता.

आंतों में बुरे बैक्टीरिया की मात्रा ज्यादा हो जाने से आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो सकता है और आपके शरीर का नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम खराब हो सकता है। इससे आपके शरीर में अंदरूनी सूजन पैदा हो सकती है और आपको बीमारियां लगने का खतरा बढ़ सकता है। 

इसलिए प्रोबायोटिक्स ज्यादा खाने से आपकी आँतों में अच्छे बैक्टीरिया की संख्या ज्यादा हो जाती है और बुरे बैक्टीरिया की संख्या कम हो जाती है। जिसकी वजह से आपका इम्यून सिस्टम भी ताकतवर बनता है और आपके शरीर का नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम भी मजबूत बनता है और आपके शरीर में से हानिकारक पदार्थ लगातार शरीर से बाहर निकलते रहते हैं। इससे आपके बीमार होने का खतरा कम हो जाता है। 

खाने की जिन चीजों में प्री बायोटिक्स की मात्रा ज्यादा होती है वह टमाटर, केला, प्याज और लहसुन। इसलिए अपने शरीर की अंदर से पूरी सफाई करने के लिए टमाटर और प्याज को सलाद के रूप में ज्यादा से ज्यादा मात्रा में खाएं। 

ज्यादा से ज्यादा मात्रा में केला खाएं और दाल सब्जी में ज्यादा से ज्यादा मात्रा में लहसुन का सेवन करें। कच्चा लहसुन आप सुबह खाली पेट भी खा सकते हैं। 

7. आपको रेगुलर एक्सरसाइज करनी है – How to detox your body

कई बार शरीर में टॉक्सिन्स जमा हो जाने की वजह से या कुछ और कारणों की वजह से इन्फ्लेमेशन पैदा हो जाती है। यानि शरीर के अंदरूनी अंगों में सूजन पैदा हो जाती है जिसकी वजह से अंगों की कार्यप्रणाली प्रभावित होती है। 

सूजन की वजह से शरीर का नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम भी प्रभावित होता है क्योंकि शरीर को डिटॉक्सीफाई करने वाले अंगों में भी सूजन आ जाती है जिसकी वजह से उनके काम करने की क्षमता कम हो जाती है। 

रेगुलर एक्सरसाइज करने का यह फायदा होता है कि इससे आपके शरीर में इंफ्लेमेशन कम होती है। जिसके कारण शरीर के सभी अंदरूनी अंग अपना काम ठीक ढंग से करते रहते हैं और अंगों में मजबूती भी आती है। 

एक्सरसाइज करने से शरीर का नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम भी सही ढंग से काम करता रहता है। आपको हफ्ते में कम से कम तीन घंटे से लेकर पाँच घंटे की एक्सरसाइज जरूर करनी चाहिए। आप किसी भी तरह की एक्सरसाइज कर सकते हैं। 

एक्सरसाइज आपको अपनी शारीरिक क्षमता के हिसाब से करनी चाहिए। जो लोग रनिंग कर सकते हैं वह लोग रनिंग करें। जो लोग रनिंग नहीं कर सकते हैं वह लोग पैदल चल सकते हैं। जो लोग कोई और कसरत करना चाहते हैं वह लोग कोई और कसरत भी कर सकते हैं। 

Read more, वजन कम करने के लिए ड्रिंक – Weight Loss Drink

8. पूरे शरीर की अंदर से सफाई करने के लिए ऐसी चीजें ज्यादा खाइये जिसमें सल्फर ज्यादा होता है -Natural ways to detox body from toxins

जैसे लहसुन, प्याज, अंडे और ब्रोकली. सल्फर शरीर में से हैवी मेटल्स को बाहर निकालने में सहायता करता है, जैसे कि कैडमियम। इसके अलावा, सल्फर एक और काम करता है। आपके शरीर में एक एंटी ऑक्सीडेंट बनता है जिसका नाम है ग्लूटाथियोन।

ग्लूटाथियोन एक ऐसा एंटी ऑक्सीडेंट है जो बहुत ज्यादा भारी मात्रा में डिटॉक्सिफिकेशन करता है और सल्फर इस एंटी ऑक्सीडेंट की शक्ति को और ज्यादा बढ़ा देता है, जिससे इसके काम करने की शक्ति और ज्यादा बढ़ जाती है, जिससे शरीर में डिटॉक्सिफिकेशन का प्रोसेस और ज्यादा तेज हो जाता है। 

इसलिए शरीर की सफाई करने के लिए सल्फर से भरपूर चीजें जरूर खाइए। दाल सब्जी को बनाने के बाद ऊपर से हरा धनिया काटकर जरूर डालिए। हरा धनिया शरीर में से हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालता है। 

हैवी मेटल्स को जैसे कि लैड को शरीर से बाहर निकालता है और केमिकल्स को और कीड़े मार दवाइयों के असर को शरीर में से बाहर निकालता है और शरीर की सफाई करता है।

उम्मीद करती हूँ आपके लिए ये जानकारी लाभदायक सिद्ध होगी

Sharing is caring!

Summary
How To Detox Your Body - पूरे शरीर की अंदर से सफाई कैसे करें
Article Name
How To Detox Your Body - पूरे शरीर की अंदर से सफाई कैसे करें
Description
How To Detox Your Body - पूरे शरीर की अंदर से सफाई कैसे करें
Author
Publisher Name
Ayurved Guide
Publisher Logo
- Advertisement -
DrSeema Guptahttps://www.ayurvedguide.com
I am an Ayurvedic Doctor, serving humanity through Ayurveda an Ancient System of Medicine from the last 21 years, by advising Ayurveda principles and healing the ailments. I follow the principle that prevention is always better than cure.

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Garlic Benefits – Health benefits and uses of fresh garlic – How to use

Garlic Benefits - Health benefits and uses of fresh garlic - How to use Garlic is one of...

Ajwain Water Benefits – अजवाइन के पानी का पानी पीने के 4 फायदे और 3 नुकसान

Ajwain Water Benefits - अजवाइन के पानी का पानी पीने के 4 फायदे और 3 नुकसान जानते हैं, अजवायन...

Symptoms – सिर्फ लक्षणों से जानिए आपको कौन सी बीमारी है

Symptoms - सिर्फ लक्षणों से जानिए आपको कौन सी बीमारी है कोई भी बीमारी अगर शुरूआत में ही...

Get in Touch

83,651FansLike
1,456FollowersFollow
8,464FollowersFollow
943FollowersFollow
22,300SubscribersSubscribe

Latest Posts

Garlic Benefits – Health benefits and uses of fresh garlic – How to use

Garlic Benefits - Health benefits and uses of fresh garlic - How to use Garlic is one of...

Ajwain Water Benefits – अजवाइन के पानी का पानी पीने के 4 फायदे और 3 नुकसान

Ajwain Water Benefits - अजवाइन के पानी का पानी पीने के 4 फायदे और 3 नुकसान जानते हैं, अजवायन...

Symptoms – सिर्फ लक्षणों से जानिए आपको कौन सी बीमारी है

Symptoms - सिर्फ लक्षणों से जानिए आपको कौन सी बीमारी है कोई भी बीमारी अगर शुरूआत में ही...

Cucumber Benefits – हर रोज एक खीरा खाने के फायदे

Cucumber Benefits - हर रोज एक खीरा खाने के फायदे आप हर रोज़ एक खीरा खाना शुरू कर दीजिये...

Regrow Hair Naturally in 3 Weeks – इन 8 चीजों को खाने से बाल दोबारा उगने लगते हैं

Regrow Hair Naturally in 3 Weeks - इन 8 चीजों को खाने से बाल दोबारा उगने लगते हैं hair...
Summary
How To Detox Your Body - पूरे शरीर की अंदर से सफाई कैसे करें
Article Name
How To Detox Your Body - पूरे शरीर की अंदर से सफाई कैसे करें
Description
How To Detox Your Body - पूरे शरीर की अंदर से सफाई कैसे करें
Author
Publisher Name
Ayurved Guide
Publisher Logo